ब्रेकअप बर्दाश्त नहीं कर पाया युवक, की आत्महत्या, खुद को लगाए 40 इंजेक्शन, सुसाइड नोट में लिखी ये बात… – INH24 |
छत्तीसगढ़

ब्रेकअप बर्दाश्त नहीं कर पाया युवक, की आत्महत्या, खुद को लगाए 40 इंजेक्शन, सुसाइड नोट में लिखी ये बात… – INH24


कानपुर।उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक युवक प्रेमिका से ब्रेकअप का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया. जिसके बाद उसने होटल में एक कमरा रेंट पर लिया. फिर वहां खुद को बेहोसी के 40 इंजेक्शन लगा लिए।

इससे उसकी जान चली गई. मरने से पहले उसने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा. जिसमें लिखा कि मेरी लाश को सिर्फ मेरे भैया को देना. गर्लफ्रेंड को देखने तक न देना. उसने मेरे पांच साल बर्बाद कर दिए।

घटना चकेरी थाना क्षेत्र के एक होटल की है. पुलिस ने बताया कि ऑपरेशन थियेटर के टेक्निशियन ने ग्लूकोज में बेहोशी की दवाओं का ओवरडोज लेकर होटल के कमरे में सुसाइड कर लिया. लोगों को इसकी जानकारी तब हुई जब होटल का कमरा नहीं खुलने पर मैनेजर ने पुलिस को सूचना दी. दरवाजा तोड़कर देखा गया तो युवक का शव बेड पर पड़ा हुआ था. पर्दे की रॉड के सहारे ग्लूकोज की बोतल टंगी थी और युवक के दाहिने हाथ में ड्रिप लगी हुई थी।

पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है. इसमें लैब टेक्निशियन ने गर्लफ्रेंड से प्यार में धोखा मिलने की बात लिखी हुई थी. मृतक का नाम विजय सिंह बताया जा रहा है जो नौबस्ता के एक प्राइवेट अस्पताल में ओटी टेक्निशियन था।

जानकारी के मुताबिक, विजय सिंह का एक युवती से बीते पांच सालों से अफेयर था. वह युवती भी एक प्राइवेट अस्पताल में नर्स थी. कुछ दिन पहले दोनों के बीच झगड़ा हो गया और विजय ने उस पर हाथ उठा दिया. इसके बाद युवती सीधे थाने चली गई. वहां उसने पुलिस से शिकायत की. साथ ही अपने घरवालों को भी इस घटना की जानकारी दी. युवती ने तब आरोप लगाया कि विजय पहले से शादीशुदा था और उसकी पहली पत्नी उसे छोड़कर चली गई थी. ये बात छिपाकर उसने उसके साथ लव मैरिज की थी. पहली पत्नी से तलाक नहीं होने के कारण उनका विवाह मान्य नहीं था इसलिए वो विजय के साथ नहीं रहना चाहती।

उस समय पुलिस ने दोनों के बीच समझौता तो कराया. लेकिन दोनों के रिश्ते फिर दोबारा नहीं सुधरे. शायद विजय इस बात को बर्दाश्त न कर पाया और उसने बुधवार को कोयला नगर स्थित होटल में कमरा लेकर वहां खुदकुशी कर ली. पुलिस को जो सुसाइड नोट मिला है उसमें मौत से पहले विजय ने लिखा है, ” मैं विजय सिंह यादव, मेरे साथ अच्छा नहीं हुआ, तुमने मेरे साथ अच्छा नहीं किया. मेरे पांच साल तुमने बर्बाद कर दिए और आज बचा हुआ करियर भी. सभी लोग मुझे माफ करें. मैं अपनी जिंदगी से हार चुका हूं. मेरी लाश आशीष भैया को छोड़कर किसी को मत देना. गर्लफ्रेंड को तो बिल्कुल भी मत देखने देना मेरी लाश को।

पुलिस ने कहा कि युवती को पूछताछ के लिए बुलाया गया है. वहीं, विजय के शव को भी पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है. मामले में आगामी जांच जारी है. हर एंगल से इस पर जांच की जाएगी।



Source link

Related Articles

Back to top button