शेषनाग, चंद्र, बिल्वपत्र और आभूषण अर्पित कर बाबा महाकाल का श्रृंगार, देखिये आज का दिव्य श्रृंगार दर्शन – INH24 |
छत्तीसगढ़

शेषनाग, चंद्र, बिल्वपत्र और आभूषण अर्पित कर बाबा महाकाल का श्रृंगार, देखिये आज का दिव्य श्रृंगार दर्शन – INH24


उज्जैन। श्री महाकालेश्वर मंदिर में बुधवार ज्येष्ठ मास कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को तड़के सुबह 4 बजे मंदिर के कपाट खोले गए। सबसे पहले भगवान महाकाल का जल से अभिषेक किया गया। इसके बाद दूध, दही, घी, शहद, फलों के रस से बने पंचामृत से अभिषेक पूजन किया।

शेषनाग, चंद्र, बिल्वपत्र और आभूषण अर्पित कर बाबा महाकाल का श्रृंगार किया गया। श्री महाकालेश्वर ने शेषनाग का रजत मुकुट, रजत की मुण्डमाल, रुद्राक्ष की माला के साथ सुगंधित पुष्प से बनी फूलों की माला धारण की। भगवान को फल और मिष्ठान का भोग लगाया गया

सुबह भस्म आरती में सैकड़ों श्रद्धालुओं ने दर्शन कर पुण्य लाभ कमाया। लोगों ने नंदी महाराज का दर्शन कर उनके कान के समीप जाकर अपनी मनोकामनाएं पूर्ण होने का आशीर्वाद मांगा। इस दौरान श्रद्धालु महाकाल की जयकारे भी लगा रहे थे। पूरा मंदिर बाबा की जयकारे से गुंजायमान हो रहा था



Source link

Related Articles

Back to top button