देश विदेश

JNU में 370 वापस लाओ के नारे, बगावती सुर सुनाई पड़े दिल्ली के JNU में

कश्मीर को अपना अलग संविधान, अपना अलग कानून बनाने जैसी छूट देने वाले आर्टिकल-370 को हटा दिया है। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल भी राज्यसभा में मोदी सरकार ने पास करा लिया, आज इसी बिल पर लोकसभा में चर्चा होगी।

जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने और अनुच्छेद 370 को खत्म किए जाने के भारत सरकार के फैसले के बाद सोमवार की देर रात दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में एक बार फिर बगावत सामने aayi है। सोमवार देर रात JNU कैंपस के अंदर एक बार फिर आजादी-आजादी के नारों की गूंज सुनाई दी. kuch लोगों ने अंधेरे में जमकर नारेबाजी की और अनुच्छेद 370 को वापस लेने की मांग की।

बताया जा रहा है कि जेएनयू से क्रांति का झंडा बुलंद करने वालों की भाषा बेहद ही आपत्तिजनक थी साथ ही उन्होंने सेना को लेकर भी काफी अपशब्दों का इस्तेमाल किया।

बता दें कि जेएनयू में लाल सलाम का नारा बुलंद करने वाले इन मुट्ठीभर लोगों ने खुद को हिन्दुस्तानी बताने से भी परहेज किया. जेएनयू में आधी रात के अंधेरे में ये छात्र मीडिया के कैमरे से कतराते रहे।

जहां एक तरफ जेएनयू में अनुच्छेद 370 को वापस लेने की मांग हो रही थी वहीं, जम्मू विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने सोमवार को जश्न मनाया. दूसरे राज्यों में भी जश्न का माहौल रहा, जिसमें तेलंगाना भी शामिल था. यहां लोग अपने घरों से बाहर आए और इस अवसर पर पटाखे फोड़कर अपनी खुशी का इजहार किया।

|

Related Articles

Back to top button