देश विदेशबिजनेस

Jet Airways विमानों को पट्टे पर ले सकता है एयर इंडिया,

राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने निजी क्षेत्र की एयरलाइन जेट एयरवेज के पांच खड़े किए गये बोइंग 777एस विमानों को पट्टे पर लेने की पेशकश की है. एयर इंडिया ने कहा है कि वह इन विमानों का परिचालन लंदन, दुबई और सिंगापुर मार्ग पर कर सकती है।

जेट एयरवेज का परिचालन बुधवार रात से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है. एयरलाइन के पास 10 बड़े आकार के बोइंग 777-300 ईआर विमान हैं. इसके अलावा उसके पास कुछ एयरबस ए330एस विमान हैं. इन विमानों का इस्तेमाल एयरलाइन मध्यम दूरी और लंबी दूरी की नयी दिल्ली और मुंबई से लंदन, एम्सटर्डम और पेरिस की उड़ानों के लिए करती है।

एयर इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अश्विनी लोहानी ने भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार को 17 अप्रैल को लिखे अपने पत्र में कहा है,

‘‘हम पुराने स्थापित मार्गों पर इन खड़े किए जा चुके पांच बी777एस विमानों के परिचालन की संभावना तलाश रहे हैं.जेट एयरवेज का नियंत्रण इस समय एसबीआई की अगुवाई वाले बैंकों के गठजोड़ के पास है.

बैंकों के गठजोड़ ने जेट एयरवेज की 32.1 से 75 प्रतिशत हिस्सेदारी किसी पात्र निवेशक को बेचने की मंशा जताई है. चार पक्षों एतिहाद एयरवेज, सॉवरेन संपदा कोष एनआईआईएफ, निजी इक्विटी कंपनियों टीपीजी कैपिटल और इंडिगो पार्टनर्स ने जेट में हिस्सेदारी लेने में रुचि दिखाई है.

लोहानी ने पत्र में कहा है कि जेट का परिचालन बंद होने से यात्रियों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है.बता दें, अश्विनी लोहानी ने जेट एयरवेज के बंद होने को लेकर कहा था कि यह भारतीय विमानन क्षेत्र के लिए बड़ा झटका है. उन्होंने फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा कि एक एयरलाइन बंद हो रहा है. हमारे लिए यह बेहद दुखद है. साथ में उन्होंने यह भी कहा था कि जेट की समस्या गंभीर है, लेकिन समस्या का हल निकालना ही होगा.

|

Related Articles

Back to top button
Live Updates COVID-19 CASES