देश विदेशविशेष

इतनी सम्पत्ति छोड़ गए परिवार के लिए अरुण जेटली

भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का दिल्ली के एम्स में शनिवार को निधन हो गया। बता दे कि अरुण जेटली लंबे समय से बीमार चल रहे थे और एम्स में उनको लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। इस दौरान भाजपा के बड़े नेताओं के अलावा दूसरे दलों के नेताओं ने भी उनसे मुलाकात की थी।

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की पहचान कानून के ज्ञाता के रूप में होती है, वह देश के सबसे बड़े वकीलों में शुमार थे। पूर्व वित्त मंत्री जेटली ने राजनीति में एक अलग ही पहचान हासिल की थी। अरुण जेटली वह नेता थे जिन्होंने वन नेशन – वन टैक्स यानी जीएसटी को लागू करने में अहम भूमिका निभाई थी।

आइए जानते हैं उनके परिवार के बारे में

अरुण जेटली जितने अच्छे नेता थे उतने ही चर्चित वकील भी थे और वकालत में उन्होंने दौलत के साथ-साथ शोहरत और इज्जत भी खूब कमाई।

बता दे कि अरुण जेटली की एक बेटी है जिसका नाम सोनाली है जेटली के बेटे का नाम रोहन है और दोनों ने अपने पिता के पीसी को आगे बढ़ाते हुए वकालत के क्षेत्र में नाम कमा रहे हैं। अरुण जेटली अपने पीछे बच्चों और पत्नी के लिए तकरीबन 40 करोड़ रुपये की संपत्ति छोड़ गए हैं।

साल 2018 में राज्यसभा उम्मीदवार के बताओ नामांकन दाखिल करते हुए जेटली ने अपनी संपत्ति का ब्यौरा दिया था जिसके मुताबिक फरीदाबाद में उनके पास एक प्लाट है जिसकी बाजार की कीमत 90 लाख रुपए है साथ ही जेटली के पास दिल्ली के नेहरू प्लेस मार्केट में भी एक प्लॉट है जो उन्होंने 10 लाख 40 हजार में लिया था।

अरुण जेटली कारों के बहुत शौकीन थे उनके पास टोयोटा की फॉर्च्यूनर मर्सिडीज भी है इसके अलावा सोने-चांदी के गहने और 45 लाख के आसपास के हीरे भी है। अरुण जेटली के पास कई कंपनियों के शेयर हैं जिसकी कीमत तकरीबन 17 करोड रूपए है साथ ही पीपीएफ में उनका 33 लाख रुपए से भी ज्यादा पैसा जमा है।

एक आंकलन के अनुसार उनकी कुल संपत्ति 40 करोड रुपए के आसपास है साथ ही जेटली के परिवार पर 8 करोड़ के आसपास का कर्ज़ भी बकाया है।

|

Related Articles

Back to top button