बिजनेस

भाई की मदद कर गिरफ्तारी से बचाया मुकेश अम्बानी ने, अनिल ने कहा थैंक यू

रिलायंस कम्यूनिकेशंस (आरकॉम) ने स्वीडन की दूरसंचार उपकरण बनाने वाली कंपनी एरिक्सन को 550 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है, ये पैसे उन्होंने अपने बड़े भाई मुकेश अंबानी से लेकर अदा किये हैं। अगर कंपनी ऐसा करने में असमर्थ रहती तो आरकॉम के चेयरमैन अनिल अंबानी को 3 महीने जेल की सजा काटनी पड़ सकती थी, ऐसे समय में मदद के लिए बड़े भाई मुकेश अंबानी छोटे भाई के सामने आए।

मुसीबत में मदद के लिए अनिल अंबानी ने बड़े भाई मुकेश अंबानी का शुक्रिया अदा किया है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद कर्ज चुकाने के लिए सही समय पर मदद के लिए भाई मुकेश अंबानी और भाभी नीता को शुक्रिया।

गौरतलब है कि रिलायंस कम्यूनिकेशंस को सुप्रीम कोर्ट के द्वारा निर्धारित की गई मंगलवार तक की समयसीमा के भीतर ही यह भुगतान करना था। पिछले महीने इस मसले की सुनवाई के दौरान उच्चतम न्यायालय ने इसे जानबूझ कर भुगतान नहीं करने का मामला बताया था और अनिल अंबानी को अदालत की अवमानना का दोषी पाया था।

जिसके बाद कोर्ट ने कंपनी को आदेश दिया कि वह या तो एक महीने के भीतर एरिक्सन के बकाये का भुगतान करे या अंबानी तीन माह जेल का भुगतें। हालिया जानकारी के मुताबिक आरकॉम ने उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के अनुसार एरिक्सन को 550 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है।

|

Related Articles

Back to top button