जरा हटकेमनोरंजन

Birthday Special – अपनी सादगी और बेहतरीन अभिनय से छाप छोड़ गईं नूतन

नूतन को भारतीय फिल्म इंडस्ट्री की सबसे सफलतम कलाकारों में से एक माना जाता है। अपने शानदार करियर में उन्होंने कई सारी हिट फिल्मों में काम किया और अवॉर्ड भी जीते। अभिनेत्री नूतन का जन्म 4 जून, 1936 को मुंबई में हुआ था. उनके पिता कुमारसेन सामर्थ एक फिल्म निर्देशक थे और मां शोभना सामर्थ फिल्म एक्ट्रेस थीं. इसके अलावा उनकी बहन तनूजा भी सफल अभिनेत्री हैं।

नूतन ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई एस टी जॉसेफ स्कूल पंचागनी से की थी जिसके बाद वो आगे की पढ़ाई के लिए वि‍देश चली गईं। नूतन ने 1950 की फिल्म हमारी बेटी से अपने करियर की शुरुआत की. इस फिल्म का निर्माण उनकी मां ने ही किया था।

बिमल रॉय की ‘बंदिनी’ नूतन के कैरियर में एक मील की पत्थर की तरह है। इसके अलावा ‘छलिया’, ‘देवी’, ‘सरस्वतीचंद्र’, ‘मैं तुलसी तेरे आंगन की’, ‘सौदागर’ जैसी 70 से ज्यादा फ़िल्में करने वाली नूतन अपार सफलता पाने के बावजूद सादगी की एक जीती जागती मिसाल रही हैं। नूतन ने अपने कैरियर के टॉप पर पहुंचने के बाद साल 1959 में नेवी के लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीश बहल से शादी कर ली थी। उनके बेटे मोहनीश बहल भी लंबे समय से एक अभिनेता के रूप में सक्रिय हैं।

कम लोग जानते हैं कि नूतन को शिकार का भी बेहद शौक था। उन्हें जब भी मौका मिलता वो अपने इस शौक को पूरा करतीं। पर्दे पर ज़्यादातर साड़ी में दिखने वाली नूतन स्क्रिप्ट के अनुसार छोटे कपड़े पहनने या बोल्ड सीन देने से कभी नहीं झिझकती थी। वो एक बेहतरीनअदाकारा थीं। साल 1990 में उनको ब्रेस्ट कैंसर ने आ घेरा था। इसके कारण 21 फरवरी 1991 को अस्पताल में इलाज के दौरान उनका देहांत हो गया।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button