एमपी और छत्तीसगढ़ में बीजेपी के ये बड़े चेहरे, मोदी कैबिनेट में मंत्री पद माना जा रहा तय, जानें |
Breaking NewsCGTOP36छत्तीसगढ़देश विदेशमध्यप्रदेशराज्य

एमपी और छत्तीसगढ़ में बीजेपी के ये बड़े चेहरे, मोदी कैबिनेट में मंत्री पद माना जा रहा तय, जानें

एमपी और छत्तीसगढ़ में बीजेपी ने एक तरफा जीत का झंडा गाड़ा है. इसके बाद अब यहां के नेताओं का केंद्र में कद बढ़ सकता है. चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद अब केंद्र में जाने की चर्चा जोरों पर हो गई है।

नए नामों में मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan),वीडी शर्मा (Vishnu Datta Sharma)और छत्तीसगढ़ से विष्णु कैबिनेट के मंत्री बृजमोहन अग्रवाल (Brijmohan Agrawal) के नामों की चर्चा सबसे ज्यादा हो रही है. आइए जानते हैं इन दोनों ही प्रदेशों से मोदी कैबिनेट में किसे जगह मिल सकती है.

मध्य प्रदेश के ये नाम आगे

मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, फग्गन सिंह कुलस्ते के अलावा वीडी शर्मा केंद्र में जगह बनाने की रेस में है. इनके चुनाव जीतते ही मध्य प्रदेश में इन नामों की चर्चा हो रही है. इस बार यहां से महिला को भी जगह मिल सकती है. बता दें कि पिछली बार मोदी कैबिनेट में मध्य प्रदेश के 5 नेताओं को जगह मिली थी. इनमें नरेंद्र सिंह तोमर, फगगन सिंह कुलस्ते, प्रह्लाद पटेल, वीरेंद्र कुमार खटीक, ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं।

शिवराज सिंह चौहान, फग्गन सिंह कुलस्ते, वीरेंद्र कुमार खटीक सबसे सीनियर नेता हैं. शिवराज साल 1991 से लेकर 2004 तक 5 बार सांसद रह चुके हैं. वीरेंद्र 8वीं बार और फग्गन 7वीं बार सांसद चुने गए हैं. मध्य प्रदेश में हिमाद्री सिंह, लता वानखेड़े, सावित्री ठाकुर, अनिता नागर चौहान, संध्या राय और भारती पारधी को टिकट दिया था. ये सभी जीत गई हैं. इनमें से भी किसी एक महिला को केन्द्र में जगह मिल सकती है।

छतीसगढ़ में इनकी चर्चा

छत्तीसगढ़ में जिन नामों की चर्चा है उनकें सबसे पहला नाम बृजमोहन अग्रवाल (Brijmohan Agrawal) का है. बृजमोहन ने रायपुर लोकसभा सीट (Raipur Loksabha Seat) से जीत का बड़ा रिकॉर्ड बनाया है. वे छत्तीसगढ़ के सीनियर नेता है. 8 बार के विधायक और भाजपा सरकार में लगातार मंत्री रहे हैं. इनकी वरिष्ठा को देखते हुए इन्हें दिल्ली बुलाने के लिए पार्टी ने टिकट दिया था.

बता दें कि बृजमोहन ने शानदार जीत दर्ज की है. इन्हें मोदी कैबिनेट में शामिल करना लगभग तय माना जा रहा है. इनके अलावा बीजेपी के संतोष पांडे और विजय बघेल की भी चर्चा जोरों पर है. ये दोनों मौजूदा सांसद हैं. संतोष ने पूर्व सीएम भूपेश बघेल को कड़ी टक्कर देकर हराया है. हिंदुत्व का बड़ा चेहरा और शाह के करीबी माने जाते हैं. ऐसे में इन्हें भी केंद्र में बैठाया जा सकता है.

Related Articles

Back to top button