छत्तीसगढ़

राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नरवा,गरवा,घुरवा,और बाड़ी योजना को पलीता, 9 गायों की एक साथ मौत

राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नरवा,गरवा,घुरवा,और बाड़ी योजना के तहत गांव -गांव मे राज्य सरकार ने ग्रामीण अर्थव्यवस्था मे सुधार लाने के लिए आदर्श गौठानो को निर्माण कराया गया है, लेकिन जिम्मेदार लोग इन गौठानो में मवेशीयो के लिए समुचित व्यवस्था नही कर पा रहे हैं, ऐसा ही एक मामला जांजगीर चाम्पा जिले के नवागढ़ विकासखण्ड अंतर्गत ग्राम पंचायत खोखरा में आज सामने आया है।

आदर्श गौठान खोखरा में एक ही दिन में एक साथ 9 गायों की मौत हो गई, गायों की मौत का कारण चारा की कमी बताया जा रहा है, कहा जा रहा है कि गौठान में चार सौ से अधिक मवेशी करीब माहभर से दिन और रात में रहते हैं, ऐसे में मवेशियों के लिए चारे की कमी पड़ गई, जिसके चलते शारीरिक रूप से कमजोर 9 गायों की मौत हो गई।

35 मवेशियों की मौत

गौठान के देखरेख के लिए जिला प्रशासन के साथ -साथ ग्राम पंचायत के जिम्मेदारी है लेकिन दोनो ही सरकार की महत्वकांछी योजना को लेकर गंभीरता नही दिखा रहे, यही वजह है कि खोखरा के गौठान में एक दिन में ही 9 मवेशियों की मौत हो गई, बताया जा रहा है कि इस गौठान में सप्ताहभर के अंदर 35 गायों की मौत हो चुकी है।

खोखरा के गौठान में एक साथ इतनी संख्या में गायों की मौत की खबर मीडिया में आने के बाद जिला प्रशाशन हरकत में आया, मौके पर वेटनरी विभाग की टीम पहुँची, मृत गायों का पोस्टमार्टम कराया गया, साथ ही गौठान में मिले अन्य कमजोर गायों को इंजेक्शन लगाए गए।

मामले में कलेक्टर जे पी पाठक और जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल भी गौठान पहुँचे और व्यवस्था का जायजा लिया, साथ ही गौठान की देखरेख में लगे जिम्मेदारों को फटकार भी लगाई, कुछ देर बाद ही गौठान में एक ट्रैक्टर पैरा का चारा भी पहुँच गया, अगर ये मुस्तैदी जिम्मेदारों ने पहले दिखाई होगी तो शायद आज एक साथ 9 मवेशियों की मौत नहीं हुई होती।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button