छत्तीसगढ़

सखी वन स्टॉप सेंटर बना पीड़ित महिलाओं का सहारा, आपातकालीन सुविधा उपलब्ध

सुदूर वनांचल क्षेत्र कोरिया जिले के बैकुण्ठपुर में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित ‘सखी’ वन स्टॉप सेंटर पीड़ित बालिकाओं एवं महिलाओं को सहायता पहुंचाने के लिए सुरक्षित और सुलभ सहारे के रूप में उभर रहा है। घर के भीतर अथवा घर के बाहर किसी भी रूप में पीड़ित व संकटग्रस्त महिला को एक ही छत की नीचे सभी प्रकार की सुविधा व सहायता पहुंचाने के लिए 1 अप्रैल 2017 में इस सेंटर की स्थापना की गई।

सेंटर में वर्ष 2017 से अब तक कुल 711 प्रकरणों दर्ज किए गए। यहां प्रत्यक्ष रूप से 305 प्रकरण आए एवं महिला हेल्पलाईन 181 के माध्यम से 406 प्रकरण दर्ज किये गए, इनमें से 641 प्रकरणों का निराकरण किया जा चुका है। “सखी“ सेंटर में अब तक कुल 170 महिलाओं एवं बालिकाओं को आश्रय दिया गया है।

“सखी“ सेंटर में विगत तीन वर्षों से पीड़ित महिलाओं,बालिकाओं को आवश्यकतानुसार आपातकालीन सुविधा, चिकित्सा, विधिक सहायता, मनोवैज्ञानिक सलाह, परामर्ष सुविधा एक ही छत के नीचे तत्काल उपलब्ध करायी जा रही है। यहां महिलाओं की समस्याओं के निदान का पूरा प्रयास किया जाता है।

आवेदिका की सहमति से उनके प्रकरणों में काउसंलिंग कर बहुत से परिवारों को जोड़ा गया है, जिससे वे खुषहाली के साथ जीवन यापन कर रही हैं। बहुत सी महिलाओं के घुमन्तु अवस्था में मिलने पर उनके परिजनों का पता लगा उनके सुपूर्द किया गया है। ऐसी महिलाएॅ जिनके परिजनों का पता नहीं चला या जो किन्हीं कारणों से घर नहीं लौट सकीं उन्हें स्वधार गृह, उज्जवला होम, नारी निकेतन में आश्रय दिया गया।

पीड़ित, संकटग्रस्त जरूरतमंद महिलाएं और बालिकाएं या अन्य जानकार व्यक्ति प्रत्यक्ष रूप से सखी सेंटर में प्रस्तुत होकर या महिला हेल्लाईन टोल फ्री नंबर (181) या “सखी“ सेंटर के फोन नंबर 07836-233519 पर कॉल कर मदद ले सकते हैं। यहां किसी व्यक्ति के द्वारा सूचना देने पर उनका नाम नंबर गोपनीय रखा जाता।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button