छत्तीसगढ़

रायपुर हनी ट्रैप – युवती को इंदौर ले गई है पुलिस, छग से इनके तार जुड़े होने का अंदेशा

हनी ट्रैप केस की जांच ने आज तेजी पकड़ ली है। एसआईटी प्रमुख संजीव शमी अब से लगातार ताबड़तोड़ ऑपरेशन कर रहे हैं। पूरे मामले में बड़ी बात है कि संजीव शमी ने मीडिया में लीक हो रही खबरों पर रोक लगा दी है जिससे हनी ट्रैप में सामने आने वाले नाम इसका फायदा न उठा सकें।

बता दें कि अभी तक मीडिया को इस बात की जानकारी नहीं है कि पांचों महिलाओं से एसआईटी कहां और किस जगह पर पूछताछ कर रही है?

ताजा जानकारी के मुताबिक एक जांच टीम रायपुर से हनी ट्रैप में गिरफ्तार छग की डेंटल छात्रा प्रीति तिवारी और उसके पिता को इंदौर उठा ले गई है। इनको कहां रखा गया है और एसआईटी के कौन से ऑफिसर इनसे पूछताछ कर रही है ये जानकारी किसी के पास नही है।

मीडिया रिपोर्ट्स से जो खबरें आ रही हैं उनके मुताबिक इस केस में अब तक 10 आईएएस और 6 आईपीएस के चेहरे एकदम साफ हो गए हैं। ये सभी मप्र काडर के हैं। छग काडर के कुछ संदिग्ध नौकरशाहों के चेहरे साफ होने हैं उसके साथ ही छग के एक बड़े मीडिया हाउस संलिप्तता के भी प्रमाण मिलें हैं। प्रीति तिवारी से पूछताछ में यह स्पष्ट हो जाएगा कि छग से कितने नेता, अफसर और कौन पत्रकार इस खेल में शामिल थे।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button