छत्तीसगढ़

राजनांदगाव सहकारी बैंक में करोडों के घोटाले के संबंध में नोटिस जारी

राजनांदगाँव सहकारी बैंक के पूरे बोर्ड को हटाने की नोटिस राज्य सरकार ने दिया है। सहकारी बैंक अब तत्काल प्रभाव से कलेक्टर की निगरानी में है।

राज्य के पंजीयक सहकारी संस्थाएँ धनंजय देवांगन ने इस संबंध में जारी नोटिस में लिखा है कि बैंक का बोर्ड बैंक के कर्तव्यों को करने में उपेक्षा बरत रहा है और ऐसे कार्य कर रहा है जो बैंक और बैंक के सदस्यो के हितों के प्रतिकुल है।

राज्य सरकार द्वारा जारी नोटिस में यह बताया गया है कि बैंक को 85 लाख से उपर का नुकसान उठाना पडा। वहाँ राज्य सरकार के ऋण माफी योजना को लेकर भी गंभीर चुक की गई।

नोटिस में उल्लेख है कि बैंक के वर्तमान बोर्ड के कार्यकाल में करोड़ों की गड़बड़ियाँ हुईं। राज्य सरकार ने बैंक का प्रभार तत्काल प्रभाव से कलेक्टर को सौंपे जाने के निर्देश दिए हैं।

|

Related Articles

Back to top button