छत्तीसगढ़

जंगल सफारी रायपुर का अब इतना रहेगा टिकट, जा रहें हो घूमने तो जान लीजिये यह

नया रायपुर स्थित जंगल सफारी में जू सफारी (चिडिय़ाघर ) के उदघाटन के बाद अब पर्यटक तरह तरह के जानवरो को उनके लिए बनाये बाड़ो में देखकर आनंद ले रहे हैं। पर्यटकों की सुविधा के लिए जंगल सफारी की टिकट दर अब भी नहीं बढ़ाई जा रही है।

बता दें कि अभी टिकट के लिए पहले की तरह ही 2 सौ रूपये लिए जा रहे हैं,और यह प्रदेश के वन मंत्री मोहम्मद अकबर के व्यक्तिगत रूप से रुचि लिए जाने के कारण हुआ है । जंगल सफारी में चिडयि़ाघर का उदघाटन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 5 अक्टूबर को वन मंत्री मोहम्मद अकबर ,नगरीय प्रशासन मंत्री डा.शिवकुमार डहरिया,वरिष्ठ विधायक धनेन्द्र साहू,विधायक कुलदीप जुनेजा व अतिरिक्त मुख्य सचिव आर. पी.मंडल,प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी सहित अन्य वन अधिकारियों की उपस्थिति में किया था।

जंगल सफारी में पहुंचने पर अब जू सफारी का भी आनंद लिया जा सकेगा। जू सफारी में टाइगर, लॉयन,रॉयल बेंगाल टाइगर, लेफर्ड, हिमालयन बियर,घडिय़ाल , ताजे पानी में पाए जाने वाले कछुए,बेंगाल मानिटरलिजार्ड, स्टार कछुए, क्रोकोडायल, हिप्पोपोटेमस को उनके लिए अलग अलग बनाये गए बाड़ो में देखा जा सकेगा।

जंगल की सुविधा के कारण नया रायपुर का जंगल सफारी अब अनूठा हो गया है इसलिए वन विभाग के अधिकारियो ने जंगल सफारी की टिकट दर को 2 सौ से बढाकर ढाई सौ रूपये करने के प्रस्ताव को सुझाव के रूप में दिया।

इस प्रस्ताव को वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने ख़ारिज कर टिकट दर को बढ़ाने की सम्भावना को समाप्त कर दिया। बताया गया है कि जू के प्राम्भ होने से वर्ष भर में एक डेढ़ करोड़ रूपये का अतिरिक्त भार वन विभाग पर पडता भी है तो इसे पर्यटकों के हित में वहन करने का फैसला वन मंत्री ने लिया है ।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button