छत्तीसगढ़

राजधानी में दुष्कर्म के आरोप के डॉक्टर के समर्थन में उतरे डेंटल डॉक्टर्स

राजधानी के एक डॉक्टर अरविंद जैन पर लगे दुष्कर्म के आरोपों के खिलाफ समस्त दंत चिकित्सकों ने उनका समर्थन किया है। मंगलवार की शाम समस्त दंत चिकित्सक रायपुर के मरीन ड्राइव पर एकत्रित हुए और मामले में निष्पक्ष जांच करने की बात कही।

डॉक्टर्स ने तर्क दिया कि डेंटल सर्जन के क्लीनिक में जनरल एनेस्थीसिया नहीं दिया जा सकता, दंत चिकित्सक जगत में इस तरह से प्रयोग संभव नहीं हैं। जिस प्रकार से डॉ. अरविंद जैन पर आरोप हैं वह प्रथम दृश्य में संभव नहीं है। राजधानी के सभी दंत चिकित्सक उनके समर्थन में हैं और इनकी निष्पक्ष जांच की मांग की है।

बता दें कि बीते दिनों राजेंद्र नगर थाने में दुष्कर्म की शिकायत दर्ज करवाने महिला पहुंची थी जहां महिला ने बताया था कि चार साल पहले 28 जुलाई 2015 को दांतो की कैंपिंग करवाने क्लिनिक गयी थी। जिसके बाद डॉक्टर ने महिला को बेहोशी का इंजेक्शन लगाया और उसके साथ दुष्कर्म किया। इस शिकायत पर राजेंद्र नगर पुलिस ने डॉक्टर के खिलाफ धारा 376, 354 के तहत मामला दर्ज कर लिया था और आगे की जांच में जुटी हुई है।

मामले में एक कथित आडियो रिकार्डिंग वायरल हुवा है जिसमे दांत के इलाज में जरा सी चूक हुई तो महिला ने पहले 30 लाख रूपये का मुआवजा मांगा पर डॉक्टर ने तीन लाख का ऑफर दिया तो मरीज महिला ने डॉक्टर के खिलाफ बलात्कार करने एफआईआर दर्ज करवा दिया था। बताया जा रहा है कि महिला इससे पूर्व भी चार लोगों के खिलाफ आरोप लगा चुकी है।

|

Related Articles

Back to top button