छत्तीसगढ़

जब सरहद पार दुश्मन की कैद में हो वीर सपूत और चौकीदार व्यस्त रहे करने में बूथ मजबूत”….PM मोदी पर CM भूपेश का तंज.. उधर भाजपा ने भी किया पलटवार

भारत-पाक के तनाव के बावजूद प्रधानमंत्री के राजनीतिक कार्यक्रमों में व्यस्तता को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीखा तंज कसा है।

भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा है कि देश का वीर सपूत दुश्मनों के कैद में है और प्रधानमंत्री बूथ को मजबूत करने में जुटे हुए हैं। भले ही मुख्यमंत्री ने तंज के अंदाज में दो लाइन की बातें कही है, लेकिन इस ट्वीट पर खूब रि-ट्वीट भी हो रहा है।

इससे पहले कल हवाई हमले की पाक की कोशिश के बीच बिलासपुर में राजनीतिक कार्यक्रमों में गृहमंत्री की मौजूदगी को लेकर भी सवाल उठा था।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा है कि …

सबसे खतरनाक होता है —

जब सरहद पार दुश्मन की कैद में हो वीर सपूत
और चौकीदार व्यस्त रहे करने में बूथ मजबूत।#MeraJawanSabseMajboot

— Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) February 28, 2019

मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के इस ट्वीट पर भाजपा ने भी पलटवार किया है। भाजपा ने ट्वीट किया है कि –

ख़त्म करो कांग्रेस का खेल
ना-पाक ज़ुबान बोल रहे @bhupeshbaghel

अप्रिय कांग्रेस, देश बाँट दिया अब और क्या-क्या बाँटोगे? लानत है। https://t.co/MyIYVDMUEr

— BJP Chhattisgarh (@BJP4CGState) February 28, 2019

गौरतलब है कि विपक्ष की तीखी आलोचनाओं के बीच बीजेपी के मेरा बूथ, सबसे मजबूत कार्यक्रम की शुरुआत हुई। पीएम नरेंद्र मोदी एक करोड़ से ज्यादा बीजेपी कार्यकर्ताओं, वालंटियरों अन्य विशिष्ट नागरिकों से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर रहे हैं। बीजेपी का दावा है कि यह दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी। कार्यक्रम में पीएम मोदी (PM Modi)  ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा कि ‘भारत के मन की बात’ के अंतर्गत प्रत्येक देशवासी अपने मन की बात सीधे मुझ तक पहुंचा सकता है।

वहीं शिक्षा विभाग के कार्यक्रम में पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पाकिस्तान के कब्जे में विंग कमांडर कैप्टन अभिमन्यु की सकुशल रिहाई के लिए केंद्र सरकार को तुरंत पहल करने की मांग की। 

मुख्यमंत्री ने  कहा कि पूरा देश भारतीय सेना के साथ है और हम सब को भारतीय सेना पर बेहद ही गर्व है, लेकिन जो हमारे पायलेट पाकिस्तान के कब्जे में है उसे छुड़ाने का प्रयास किया जाना चाहिए। हम उस पायलेट के परिवार के साथ है लेकिन इसमें किसी प्रकार की राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश है। वो बेहद ही दुर्भाग्य है।

|

Related Articles

Back to top button
Live Updates COVID-19 CASES