छत्तीसगढ़

कहीं फटा इंसुलेटर तो कहीं टूटी 11kv लाइन, आंधी तूफान से छत्तीसगढ़ में बिजली हुई गुल

आंधी तूफान की वजह से राज्य का एक बड़ा हिस्सा बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। धमतरी, बलौदाबाजार, गरियाबंद, बालोद, कांकेर समेत कई जिलों में बिजली बुरी तरह से बाधित हुई है. बिजली कंपनी के कर्मचारी युद्धस्तर पर व्यवस्था बहाली में जुटे गए हैं।

धमतरी शहर में बिजली आपूर्ति ठप्प होने से शहर का अधिकांश हिस्सा अंधेरे में था. चारामा क्षेत्र में पेड़ों के टूटने की वजह से बिजली सप्लाई लाइनें बड़े पैमाने पर क्षतिग्रस्त हुई हैं।

11 केवी के छह फीडर सहित इंसुलेटर टूट गए हैं, जिसकी सुधार की प्रक्रिया तेज कर दी गई है. धमतरी जिले और पलारी इलाके के कई गांवों में बिजली आपूर्ति ठप्प है. छिटोड फीडर भी क्षतिग्रस्त हुआ है। बलौदाबाजार में 11 केवी के क्षतिग्रस्त फीडर को सुधार लिया गया है।

अंजोरा- तिरगाजोला और अंडा-निकुम मार्ग पर 33 केवी लाइन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है. गरियाबंद जिले के इंदागांव और देवभोग जिले की बिजली लाइन ब्रेक डाउन हो गई है।

ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी ने एक पोर्टल को बताया कि आंधी तूफान से कई हिस्सों में बड़ा नुकसान हुआ है. बिजली की बहाली हो सके लिहाजा युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है।

|

Related Articles

Back to top button