छत्तीसगढ़देश विदेश

अमन सिंह रतन पावर के सीईओ बने, 6 करोड़ के पैकेज पर हुई नियुक्ति

रमन सरकार के सबसे ताकतवर नौकरशाह रहे अमन सिंह प्रायवेट पावर कंपनी रतन इंडिया पावर कंपनी के सीईओ बन गए हैं। खबर है, 50 लाख की मंथली सैलरी पर उनकी नियुक्ति हुई है, यानि उनका सलाना पैकेज 6 करोड़ रुपये का लोगा।

अमन सिंह पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के प्रिंसिपल सिकरेट्री रहे थे। विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद ब्यूरोक्रेसी में लगातार अटकलें चलती रही कि भारत सरकार में किसी पद पर उनकी पोस्टिंग होगी। लेकिन, तब तक लोकसभा चुनाव का ऐलान हो गया। अब केंद्र में नई सरकार के शपथ ग्रहण के पहले ही पावर कंपनी ज्वाईन करने के उनके फैसले ने चौंका दिया है।

यह भी पढ़ें – आने वाले एक महीने तक किसी टीवी डिबेट में नहीं जाएंगें कांग्रेस के नेता – प्रवक्ता

सूत्रों का मानना है, सेलरी अच्छी होने की वजह से अमन सिंह ने यह कदम उठाया होगा। क्योंकि, छह करोड़ रुपए का सलाना पैकेज वास्तव में एक बडी रकम होती है। शायद वैसे ही जैसे मंत्री पद का आज शपथ लेने वाले जयशंकर ने पिछले साल याद होगा, विदेश सचिव के पद से रिटायर होने के बाद कई ऑफरों को छोड़़कर 90 लाख रुपए के पैकेज पर टाटा कंपनी ज्वाईन कर लिया था।

रतन पावर के वेबसाइट के अनुसार वे 15 मई को ही सीईओ पद पर ज्वाइन कर चुके हैं। बता दें कि रतन इंडिया पावर कभी इंडियन बुल कंपनी का हिस्सा थी। साझीदारों को बंटवारा हो जाने पर रतन पावर कंपनी बनी। इसकी दो पावर प्लांट है, दोनों महाराष्ट्र में है। अमन सिंह का कार्यालय मुंबई और दिल्ली दोनों जगहों पर होगा।

गौरतलब है कि छत्तोसगढ़ में अमन सिंह के खिलाफ चिप्स समेत कई शिकायतों की जांच के लिए राज्य सरकार ने एसआईटी बिठा दी है तमाम मामलों पर (एसआईटी) ईओडब्लू चिप्स की जांच कर रहा है। अमन सिंह को हाईकोर्ट से एसआईटी की किसी भी कार्रवाई पर स्थगन मिला हुआ है।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button