छत्तीसगढ़

बीते दिन किन्नर विवाह में हुवा बड़ा फर्जीवाड़ा, किन्नरों ने आयोजकों पर लगाये गम्भीर आरोप

राजधानी रायपुर में शनिवार को हुए किन्नर विवाह में बड़े फर्जीवाड़ा का खुलासा हुआ है। किन्नर विवाह के आयोजक व हंसा फिल्म के प्रोड्यूसर सुरेश शर्मा पर किन्नरों ने फर्जीवाड़ा करने का आरोप लगाया है।

विवाहित जोड़ो ने दावा किया कि उन्हें शादी से पूर्व सुरेश शर्मा द्वारा या आश्वासन दिया गया था कि सभी जोड़ों को डेढ़ डेढ़ लाख रुपए नगद राशि दी जाएगी एवं विवाह का संपूर्ण खर्चा उनके द्वारा ही उठाया जाएगा लेकिन शादी होने के बाद सुरेश शर्मा ने आज सभी जोड़ों को पांच पांच हजार का लिफाफा दिया गया। जिसके बाद जोड़ों समेत सभी किन्नरों ने जमकर हंगामा मचाया और सुरेश शर्मा एवं उनकी पूरी टीम को पुजारी पार्क में ही बंधक बना लिया।

हंगामे की सूचना मिलने के बाद कोतवाली टिकरापारा और पुरानी बस्ती पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंची व किसी प्रकार झगड़े को शांत कराया। इसके बाद सुरेश शर्मा ने पीड़ितों से वादा किया कि वह जल्द ही रकम का इंतजाम कर देंगे लेकिन रात होते तक भी उनके द्वारा राशि अदा नहीं
की गई।

आपको बता दें कि शनिवार को हुए किन्नर विवाह को लेकर छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश तथा विश्व की मीडिया का ध्यान इस विवाह समारोह पर था और सभी ने इसे काफी प्रोत्साहित भी किया खुद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस विवाह समारोह में शामिल हुए और जोड़ो को आशीर्वाद भी दिया था।

इसके साथ साथ कई राजनेताओं ने भी विवाह में शिरकत की थी। यह विवाह गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज किया गया लेकिन इस नए खुलासे के सामने आने के बाद कहीं ना कहीं आयोजक के साथ शामिल स्थानीय लोगों पर लोगों की भूमिका पर भी सवालिया निशान खड़े हो गए हैं।

बताया जा रहा है कि आयोजक सुरेश शर्मा ने दिन भर पीड़ितों को रकाम देने का झांसा दिया लेकिन वे रकम नही जुटा पाए। वही इस मामले में अब पुलिस आयोजक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात कह रही है।

सम्भावना जताई जा रही है कि सुरेश शर्मा ने अपनी फिल्म हंसा के प्रमोशन और उसके फिल्मांकन के लिए इस प्रकार के आयोजन का षड्यंत्र रचा है लेकिन अब देखना है कि पुलिस इस षड्यंत्र से पर्दा कब तक हटा कर मामले का पटाक्षेप करती है।

|

Related Articles

Back to top button