छत्तीसगढ़

बस्तर में लगातार हो रही बारिश को देखते हुए  मुख्यमंत्री ने सतर्कता बरतने के निर्देश दिए

बस्तर कमिश्नर से मुख्यमंत्री ने फोन पर बात कर हालात की जानकारी ली

प्रदेश मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर संभाग पिछले दो दिनों से लगातार हो रही बारिश के मद्देनजर बस्तर संभाग के कमिश्नर और यहां सभी जिलों के कलेक्टरों को हालात पर नजर रखने और किसी भी तरह की विपरीत परिस्थियों से निपटने के लिए पूरी सतर्कता एवं बचाव की तैयारी रखने के निर्देश दिए हैं। 

मुख्यमंत्री बघेल ने इस संबंध आज बस्तर संभाग के कमिश्नर श्री अमृत खलको से दूरभाष पर बात की और उनसे बस्तर में हो रही वर्षा और यहां के नदी-नालों सहित भारी वर्षा के दौरान प्रभावित होने वाले क्षेत्रों के हालात की जानकारी ली।

उन्होंने कमिश्नर से कहा कि वे बाढ़ नियंत्रण कक्ष के साथ-साथ सभी संबंधित विभागों एवं अधिकारियों को लगातार सचेत रखने तथा स्थिति पर नियंत्रण रखने का कार्य सुनिश्चित करें। इसी तरह बाढ़ से प्रभावित होने वाले नदी-नालों के किनारों के संवेदनशील क्षेत्रों एवं लो एरिया में जरूरत पड़ने पर राहत शिविर लगाने की व्यवस्था अभी से सुनिश्चित रखें।

मुख्यमंत्री ने राज्य आपदा मोचन बल सहित प्रभावित जिलों के जिला पुलिस बल, होमगार्ड, राजस्व विभाग, स्वास्थ्य विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, विद्युत विभाग, लोक निर्माण, खाद्य विभाग, नगरीय निकायों, बीएसएनएल आदि के अधिकारियों को भी सचेत एवं सतर्क रहने को कहा हैं। 
कमिश्नर बस्तर ने बताया है कि ओडिशा एवं बस्तर क्षेत्र मंे भारी बारिश हो रही है। इन्द्रावती नदी के कैचमेंट एरिया में भी भारी बारिश हुई है।

बस्तर जिले में पूर्वानुमान के अनुसार प्रातः 11 बजे से वॉर्निग लेवल तक आ चुका है तथा दोपहर एक बजे तक डेन्जर लेवेल को पार कर कर लेगी, इससे बाढ़ की स्थिति निर्मित हो सकती है।

बाढ़ से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों और लो लाइन एरिया में रहे वालों को इन क्षेत्रों से एतिहातन रूप से खाली कराने के निर्देश दिए गए है। राहत शिविरों की भी व्यवस्था की गई। बाढ़ से प्रभावित होने वाले शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में नागरिकों को सतर्क रखने के लिए लगातार मुनादी भी की जा रही है। प्रभावित क्षेत्रों में स्कूलों में अवकाश घोषित करने के निर्देश दिए गए है। 

|

Related Articles

Back to top button