छत्तीसगढ़

पेश करिए SIT की अब तक की सारी कार्यवाही”, SIT मामले पर हाइकोर्ट का तल्ख रूख

SIT गठन और उसकी विधिक स्थिति पर प्रश्न उठाती धरमलाल कौशिक की जनहित याचिका पर सुनवायी के दौरान हाईकोर्ट तब नाराज हो गई जबकि उसके संज्ञान में यह तथ्य लाया गया कि, सरकार और SIT हाईकोर्ट के निर्देशों का पालन नही कर रहे हैं।

याचिकाकर्ता के वकील ने चीफ जस्टिस अजय त्रिपाठी की अध्यक्षता वाली डबल बैंच के समक्ष इस आशय के अभिलेख प्रस्तुत किए जो यह बताते थे कि उच्च न्यायालय के आदेश की अवहेलना हुई है।

चीफ जस्टिस अजय त्रिपाठी ने याचिकाकर्ता के वकील द्वारा प्रस्तुत आवेदन और कोर्ट को दी जानकारी के बाद SIT की अब तक हुई कार्यवाही के रिकॉर्ड हाईकोर्ट में पेश करने के निर्देश दे दिए, जिसके बाद हड़कंप मच गया है।

गौरतलब है कि जब धरमलाल कौशिक की इस रिट पर सुनवाई शुरु हुई तो महाधिवक्ता की अस्वस्थता का हवाला देते हुए अगली तारीख़ का आग्रह किया गया, जिसे चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली बेंच ने स्वीकार लिया, लेकिन तभी चीफ जस्टिस के सामने याचिकाकर्ता के वकील ने यह तथ्य दिए कि सरकार SIT के मसले पर बेंच द्वारा जारी पूर्व आदेश की अवहेलना कर रही है, जिसके बाद चीफ जस्टिस नाराज हो गए।

ज्ञात हो कि इस मसले पर हाईकोर्ट ने कहा था “SIT की वैधानिकता को लेकर कई गंभीर सवाल उठाए गए हैं. SIT किसी के साथ ऐसा कुछ ना करे जो संवैधानिक ना हो”

|

Related Articles

Back to top button