छत्तीसगढ़

जब मुख्यमंत्री भूपेश बच्चो और महिलाओं को खुद परोसने लगे भोजन, महिलाएं हुई गदगद

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बस्तर संभाग के दो दिवसीय प्रवास के पहले दिन आज जिला मुख्यायाल दंतेवाड़ा में सुपोषित दंतेवाड़ा सुपोषण अभियान और बिहान महिला समूह के सम्मेलन में शाामिल हुए। मुख्यमंत्री ने स्थानीय मेढका डोबरा स्टेडियम में अभियान के तहत महिलाओं और बच्चों को गरम पोष्टिक भोजन परोसा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर लगभग 125 करोड़ रूपए के 30 विभिन्न विकास कार्यों का लोकापर्ण और भूमि पूजन किया।

मुख्यमंत्री बघेल ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश के सामने कुपोषण एक बड़ी समस्या है। यदि बच्चे कमजोर होंगे तो आगे चलकर वो कमजोर नागरिक बनेंगे। इसके लिए जरूरी है कि उन्हें समय पर सही पोषण मिले। राज्य सरकार ने प्रदेश को कुपोषण से मुक्ति दिलाने का संकल्प लिया है और इसी के तहत पायलट प्रोजेक्ट के रूप में दंतेवाड़ा और बस्तर जिले के पंचायतों में सुपोषण अभियान के तहत महिलाओं, किशोरी बालिकाओं और बच्चों को गरम पोष्टिक भोजन प्रतिदिन मुहैया कराया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा गांधी जी की 150 वीं जयंती 2 अक्टूबर से यह अभियान पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसी तरह बस्तर अंचल के सुदुर क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को समय पर चिकित्सा सुविधा नही मिल पा रही थी इसे देखते हुए राज्य सरकार ने यहां के हॉट बाजारों के दिन वहां चिकित्सक और पैरामेडिकल की टीम की उपस्थिति सुनिश्चित कर ग्रामीणों को चिकित्सा सुविधा का लाभ दिलाया जा रहा है। इसे भी आगामी 2 अक्टूबर से पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा।

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button