लाइफस्टाइल

1 जून से बदल जाएंगे ये 5 बड़े नियम, जान लीजिए आप

स्टेट बैंक का होम लेने वाले, एक्सिस बैंक और इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) के ग्राहक और गाड़ी मालिकों पर इन नियमों का सीधा असर देखा जाएगा. अगर आप भी इस श्रेणी में आते हैं तो जून महीने का खयाल रखें. रेपो रेट और लेंडिंग रेट बढ़ने के बाद होम लोन की ईएमआई में बड़ी तब्दीली देखी जा रही है. इसलिए बैंकों का नियम जान लें और उसी के हिसाब से अपना ट्रांजैक्शन जारी रखें. आइए उन 5 बदलावों पर गौर करते हैं जो जून महीने में अमल में आने वाली हैं.

रिजर्व बैंक ने अभी हाल में रेपो रेट बढ़ाया है. रेपो रेट बढ़ने के बाद बैंकों ने लेंडिंग रेट बढ़ाए हैं. इससे होम लोन की ईएमआई बढ़ गई है. आपने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से लोन लिया है तो जून महीना खास होने वाला है क्योंकि ब्याज दरों में बढ़ोतरी देखी जाएगी.

  1. SBI के ब्याज में बढ़ोतरी

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने होम लोन का एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट (EBLR) 40 बेसिस पॉइंट बढ़ाकर 7.05 परसेंट कर दिया है. स्टेट बैंक ने बताया है कि लेंडिंग रेट से जुड़ी ब्याज दरों में बढ़ोतरी का नियम 1 जून 2022 से लागू होने जा रहा है. ईबीएलआर पहले 6.65 परसेंट था, लेकिन 40 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी के साथ यह 7.05 परसेंट हो गया है. अब स्टेट बैंक इसी रेट के हिसाब से अपने ग्राहकों से होम लोन पर ब्याज वसूलेगा.

  1. थर्ट पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम

प्राइवेट कारों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस पहले से थोड़ा महंगा होगा. 2019-20 में यह इंश्योरेंस 2072 रुपये का था, लेकिन इसे 2094 रुपये पर फिक्स कर दिया गया है. सड़क मंत्रालय ने इसका गजट भी जारी कर दिया है. यह 1000 से कम सीसी की कारों के लिए है. 1000 से 1500 सीसी की कारों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस 3221 रुपये से 3416 रुपये कर दिया गया है. जिन गाड़ियों की क्षमता 1500 सीसी से ऊपर है, उसका थर्ड पार्टी इंश्योरेंस 7890 से बढ़कर 7897 रुपये कर दिया गया है. 150 से 350 सीसी की दोपहिया गाड़ी के लिए इंश्योरेंस प्रीमियम 1366 रुपये जबकि 350 सीसी से अधिक क्षमता वाली दोपहिया गाड़ी का प्रीमियम 2804 रुपये होगा.

  1. गोल्ड हॉलमार्किंग

1 जून 2022 से गोल्ड हॉलमार्किंग का दूसरा दौर शुरू हो रहा है. देश के 256 जिलों और और इसमें जुड़े नए 32 जिलों में 1 जून से सोने के आभूषण और आर्टिफैक्ट की हॉलमार्किंग अनिवार्य होगी. इन जिलों में एसेइंग और हॉलमार्किंग सेंटर पहले से मौजूद हैं, इसलिए हॉलमार्किंग को अनिवार्य कर दिया गया है. इन 288 जिलों में केवल 14, 18, 20, 22, 23 और 24 कैरेट के सोने के आभूषण बेचे जाएंगे. ये सभी आभूषण अनिवार्य तौर पर हॉलमार्क होने चाहिए.

  1. इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक चार्ज

पोस्ट ऑफिस में आधार से चलने वाले पेमेंट सिस्टम (AePS) जैसे कि पीओएस मशीन और माइक्रो एटीएम से फ्री लिमिट के बाद ट्रांजैक्शन करने पर सर्विस चार्ज देना होगा. सर्विस चार्ज लगाने का नियम 15 जून से लागू हो रहा है. इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक इंडियन पोस्ट की सब्सिडरी है जिसे डाक विभाग चलाता है. एक महीने में एईपीएस से तीन ट्रांजैक्शन फ्री होंगे, लेकिन उसके बाद ट्रांजैक्शन पर सर्विस चार्ज लगेगा. लिमिट से अधिक कैश निकालने या जमा करने पर 20 रुपये प्लस जीएसटी और मिनी स्टेटमेंट के लिए 5 रुपये प्लस जीएसटी देना होगा.

  1. एक्सिस बैंक का सेविंग अकाउंट चार्ज

अर्ध-शहरी/ग्रामीण क्षेत्रों में आसान बचत और सैलरी प्रोग्राम के लिए औसत मासिक शेष राशि को 15,000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये या 1 लाख रुपये का टर्म डिपॉजिट कर दिया गया है. लिबर्टी सेविंग अकाउंट के लिए जमा राशि 15,000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये या 25,000 रुपये की स्पेंडिंग कर दी गई है. ये टैरिफ 1 जून 2022 से प्रभावी होंगे.

Source
Tv9 hindi
Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button