CGTOP36देश विदेश

20 लाख फिरौती लेकर भी कर दी बच्चो की हत्या, ट्यूशन पढ़ाने वाला टीचर था साजिश में शामिल

सतना से किडनैप हुए जुड़वां भाइयों (श्रेयांश-प्रियांश) का शव मिला है। अपहरण और हत्या के इस वारदात का खुलासा सुनकर लोगों के खुन खौल उठा । अपर्ह्ताओं ने फिरौती की रकम लेने के बावजूद भी दोनों बच्चों की हत्या कर दी। 

शनिवार देर रात हाथ-पैर बंधे दोनों के शव उत्तर प्रदेश के बांदा में यमुना नदी से बरामद किए गए। पुलिस के मुताबिक, किडनैपर्स ने दो करोड़ रुपए फिरौती मांगी थी। घरवालों ने 20 लाख दे भी दिए थे। मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बता दें, देवांश और प्रियांश का 12 फरवरी को स्कूल बस  से अपहरण कर लिया गया था, जिसके बाद अपहरणकर्ताओं ने बच्चे के माता-पिता से फिरौती की मांग रखी थी. वहीं फिरौती मिलने के बाद भी अपहरणकर्ताओं ने बच्चों को उनके माता-पिता के पास वापस नहीं भेजा और उनकी निर्ममता से हत्या कर दी।

चित्रकूट के जानकी कुंड स्थित सदगुरु ट्रस्ट द्वारा संचालित सदगुरु पब्लिक स्कूल (एसपीएस) के बाहर स्कूल बस से बाइक सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने पिस्टल की नोक पर तेल व्यापारी ब्रजेश रावत (निवासी सीतापुर, चित्रकूट उप्र) के दो मासूम जुड़वा बेटों प्रियांश (5) और श्रेयांश (5) को अगवा कर लिया था। दोपहर करीब 3 बजे मासूमों के शवों को घर लाया गया, इसके बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजन उन्हें लेकर रवाना हुए।

पुलिस के मुताबिक जिन 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है वह संपन्न घरों के लड़के हैं, जिन्होंने लालच में आकर बच्चों का किडनैप कर लिया और फिर पोल खुल जाने के डर से बच्चों की हत्या कर दी. वहीं बच्चों की हत्या के बाद लगातार मध्य प्रदेश सरकार पर सवाल उठ रहे हैं।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए युवकों में एक स्कूल के सुरक्षा गार्ड का बच्चा है. वहीं इसके अलावा एक कोचिंग पढ़ाने वाला लड़का, एक बीटेक का छात्र और एक पुरोहित का बेटा भी इस पूरी शाजिश में शामिल बताए जा रहे हैं।

वहीं देवांश और प्रियांश की मौत की खबर सामने आने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी इस पर दुख जताया है और मृतक बच्चों के माता -पिता से फोन पर बातचीत की है. उन्होंने कहा कि ”मुझे इस बात का दुख है कि हम बच्चों को सकुशल वापस लाने में नाकाम रहे

Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.
प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने CGTOP36 के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें

Related Articles

Back to top button