CGTOP36

चुनाव सामिग्री वितरण से गायब हुए तो सीधे सस्पेंड”…छुट्टी का आवेदन देने वालों का मेडिकल चेकअप कराने के दिए कलेक्टर डॉ संजय अलंग ने निर्देश

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ संजय अलंग ने निर्वाचन कार्य एवं प्रशिक्षण में लापरवाही बरत रहे कर्मचारियों को निर्देश जारी किये हैं कि 22 अप्रैल को सामग्री वितरण के समय अनुपस्थित रहने पर सीधे निलंबन एवं विभागीय जांच की कार्रवाई की जाएगी।

ज्ञातव्य है कि कई कर्मचारी निर्वाचन प्रशिक्षण में उपस्थित नहीं हुए हैं। ऐसे कर्मचारियों की लिस्ट तैयार कर ली गई है और उन्हें निर्देशित किया गया है कि 23 अप्रैल को मतदान से एक दिन पहले 22 अप्रैल को सामग्री वितरण के दौरान अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें अन्यथा निलंबन की कार्रवाई की जाएगी।

इसके साथ ही डॉ अलंग ने वाणिज्य कर विभाग के अधिकांश कर्मचारियों द्वारा स्वास्थ्यगत कारणों से निर्वाचन ड्यूटी से छूट के आवेदनों पर संयुक्त आयुक्त राज्य कर को कर्मचारियों का मेडिकल चेकअप कराने निर्देशित किया है। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा है कि अधिक मात्रा में एक साथ कर्मचारियों का स्वास्थ्य खराब होने से वे कार्यालय का संचालन करने में असमर्थ होंगे, इस तथ्य की पुष्टि के लिये वाणिज्य कर विभाग के समस्त कर्मचारियों का मेडिकल चेकअप कराया जाए।

यदि मेडिकल चेकअप में निर्वाचन कार्य से मुक्ति की मांग करने वाले कर्मचारी स्वस्थ्य एवं शासकीय कार्य करने में सक्षम पाये जाते हैं तो उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए।

इसके साथ ही कलेक्टर ने उपसंचालक कृषि को निर्देशित किया है कि कृषि विकास अधिकारी अनूप कुमार तिवारी द्वारा मानसिक रूप से अस्वस्थ्य होने के कारण लोकसभा निर्वाचन के मतदान दल से ड्यूटी मुक्त किये जाने हेतु आवेदन किया है, इससे स्पष्ट होता है कि श्री तिवारी शासकीय कार्य संपादन करने में सक्षम नहीं हैं। इसलिये श्री तिवारी के विरुद्ध अनिवार्य सेवानिवृत्ति के संबंध में विधिसंगत कार्रवाई करना सुनिश्चित करें।

|

Related Articles

Back to top button