CGNews – बजरंग दल के नेता और शादीशुदा युवती की हत्या, सड़क किनारे मिले दोनो के शव, प्रेम प्रसंग में हत्या की आशंका – INH24 |
छत्तीसगढ़

CGNews – बजरंग दल के नेता और शादीशुदा युवती की हत्या, सड़क किनारे मिले दोनो के शव, प्रेम प्रसंग में हत्या की आशंका – INH24


छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में बजरंग दल के जिला सह संयोजक सुजीत सोनी (25) और एक लड़की की हत्या कर दी गई. इसके बाद लड़की के शरीर को जलाने की भी कोशिश की गई. दोनों के शव सोमवार को बलरामपुर-अंबिकापुर हाईवे के किनारे पड़े मिले। आशंका जताई जा रही है कि प्रेम प्रसंग के चलते हत्या की गई है।

मामला बलरामपुर थाना क्षेत्र के डुमरखी गांव का है. दोनों के शव वहां स्थित ढाबे से करीब 100 मीटर दूर जंगल में मिले. लड़की की पहचान किरण काशी (22) निवासी बलरामपुर के रूप में हुई है। वहीं सुजीत सोनी एक व्यवसायी परिवार से हैं. इसके बाद आक्रोशित व्यापारियों ने शहर बंद कर दिया और टायर जलाकर चौक को जाम कर दिया।

एनएच-343 पर सुबह 11 बजे से लगाया गया जाम चार घंटे बाद दोपहर तीन बजे समाप्त हुआ. एसडीएम और पुलिस अधिकारियों ने आश्वासन दिया है कि 72 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. मांगों को लेकर एक सहमति पत्र पर भी हस्ताक्षर किये गये हैं. हालाँकि शहर अभी भी बंद है.

फोरेंसिक एक्सपर्ट ने की जांच

सुजीत सोनी और किरण काशी के शव की जांच फॉरेंसिक टीम ने की. दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. जांच के दौरान सुजीत सोनी के हाथ, घुटने और कमर की हड्डियां टूट गयीं. आशंका है कि पहले उसे बेरहमी से लाठी-डंडों से पीटा गया और फिर गला दबाकर हत्या कर दी गयी. किरण काशी का गला काटने की कोशिश की गई.

लड़की शादीशुदा थी और अपने माता-पिता के घर में रह रही थी।

जांच में पता चला कि किरन काशी की शादी करीब तीन साल पहले मानिकपुर में हुई थी, लेकिन कुछ दिन बाद वह वापस बलरामपुर आ गई। उनके पिता की मृत्यु हो चुकी है. वह अपनी मां और छोटी बहन के साथ रह रही थी।

कई पहलुओं पर जांच

पुलिस मामले के सभी पहलुओं पर जांच कर रही है. सुजीत सोनी बजरंग दल के उप जिला संयोजक होने के साथ-साथ गौ तस्करी के विरोध में भी काफी सक्रिय थे. इसके अलावा उनके निजी विवादों के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है. लड़की से रिश्ते के एंगल पर भी जांच की जा रही है.

घर से निकला लेकिन वापस नहीं लौटा

सुजीत सोनी के पिता नंदलाल सोनी बलरामपुर के बड़े कारोबारी हैं. परिजनों के मुताबिक सुजीत शाम को घर से निकला था और वापस नहीं लौटा. उसके मोबाइल पर कई बार कॉल की गई, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। शव के पास ही युवक का स्कूटर और मोबाइल भी मिला।

बलरामपुर एसपी डॉ. लाल उमेद सिंह ने बताया कि पुलिस की जांच बड़े पैमाने पर की जा रही है. उम्मीद है कि पुलिस जल्द ही आरोपियों तक पहुंच जाएगी. 5 महीने पहले भी बलरामपुर के एक कारोबारी का शव जंगल में अधजली हालत में मिला था.



Source link

Related Articles

Back to top button