CG News: मुझे बेवकूफ बनाने की कोशिश मत करिये…बाघ की मौत पर न्यायिक जांच के जवाब पर घिरे वन मंत्री केदार कश्यप- नेता प्रतिपक्ष डाॅ.महंत |
CGTOP36छत्तीसगढ़राज्य

CG News: मुझे बेवकूफ बनाने की कोशिश मत करिये…बाघ की मौत पर न्यायिक जांच के जवाब पर घिरे वन मंत्री केदार कश्यप- नेता प्रतिपक्ष डाॅ.महंत

रायपुर। विधानसभा के 12वें दिन आज सदन में गोमर्डा अभ्यारण में बाघ की मौत के मामले में वन मंत्री केदार कश्यप घिर गये। नेता प्रतिपक्ष डाॅ.चरणदास महंत ने बाघ की मौत पर न्यायिक जांच के मुद्दे पर वन मंत्री को घेरते हुए गलत जानकारी देने की बात कहते हुए सदन में खेद वयक्त कर माफी मांगने की बात पर अड़ गये। डाॅ.महंत के सवाल पर वनमंत्री केदार कश्यप अपनी दलील देते रहे,लेकिन जवाब से असंतुष्ट डाॅ.महंत ने अंत में यहां तक कह दिया कि मुझे बेवकूफ बनाने की कोशिश मत करिये……मैने भी किताब पढ़ा है। छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज गोमर्डा अभ्यारण में हुए बाघ की मौत के मामला जमकर गुंजा। नेता प्रतिपक्ष डाॅ.चरणदास महंत ने बाघ की मौत पर न्यायिक जांच किये जाने के मुद्दे पर सवाल उठाते हुए न्यायिक जांच का आदेश दिखाने की बात कही।

वनमंत्री केदार कश्यप इस सवाल पर जवाब देते हुए बताया कि बाघ की मौत के मामले में वन विभाग द्वारा कार्रवाई कर क्रिमिनल केस के तहत कार्रवाई कर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। वनमंत्री के इस सवाल पर डाॅ.महंत ने दोबारा सवाल उठाते हुए कहा कि पिछली बार पूछे गये इसी सवाल पर मंत्रीजी ने मुझे न्यायिक जांच चलने की बात कहकर चुप कराकर बैठा दिया था। महंत ने वनमंत्री से न्यायिक जांच के आदेश की काॅपी दिखाने की मांग की। डाॅ.महंत ने आरोप लगाया कि बाघ की मौत के मामले में विभाग द्वारा गलत जानकारी वनमंत्री को गलत जानकारी दी गयी। जिससे सदन में गलत जानकारी पेश किया गया। डाॅ.महंत ने बाघ की मौत पर नयायिक जांच की गलत जानकारी देने के मामले में सदन में खेद व्यक्त कर माफी मांगने की बात रखी।

read more- CG News: महतारी वंदन योजना को लेकर मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने दिया बड़ा बयान…

बावजूद इसके केदार कश्यप वन विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई की दलील दी जाती रही। वनमंत्री के सवाल से असंतुष्ट होने के बाद डाॅ.महंत ने कैमरे से बाघों की ट्रैकिंग का सवाल उठाते हुए दोबारा केदार कश्यप को घेर दिया। इसके बाद जब वनमंत्री द्वारा 12 से अधिक ट्रैप कैमरा लगाकर बाघों की ट्रैकिंग करने की जानकारी देते हुए ट्रैप कैमरा के सेन्सेटिव होने की जानकारी दे रहे थे। तभी वनमंत्री के इस जवाब पर पर डाॅ.महंत ने पलटवार करते हुए कह दिया कि ट्रैप कैमरा से बाघो और वन्य जीवों की गणना की जाती है,फोटोग्राफी होती है।

ट्रैप कैमरा से बाघों की ट्रैकिंग नही की जा सकती है। ये किताब आपके विभाग वालों को दिखा देता हूं….मैं पढ़कर आया हूं मुझे बेवकूफ बनाने की कोशिश मत करिये। मैं तो कहता हूं मुझे सिर्फ न्यायिक जांच का आदेश दिखा दिजिये बस ? आज विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डाॅ.महंत के इस सवाल के दौरान वनमंत्री केदार कश्यप बुरी तरह से घिरते नजर आये। इसके बाद अंत में विधानसभा अध्यक्ष डाॅ.रमन सिंह ने हस्तक्षेप करते हुए वनमंत्री को जवाब सुधार लेने का सुझाव दिया गया।

Related Articles

Back to top button