CG में गांव के 306 परिवारों को मिली नल से जल की सुविधा |
#Social

CG में गांव के 306 परिवारों को मिली नल से जल की सुविधा



Raipur. रायपुर। मुख्यमंत्री विष्णु देव साय की सरकार छत्तीसगढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों के विकास और जनता की भलाई के लिए निरंतर प्रयासरत है। जल जीवन मिशन के माध्यम से राज्य में शुद्ध पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है, जिससे न केवल ग्रामीणों के जीवन में सुधार हो रहा है, बल्कि उनके स्वास्थ्य और समृद्धि में भी बढ़ोतरी हो रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में दूरस्थ अंचलों तक घर-घर नल कनेक्शन के जरिए पेयजल उपलब्ध कराने की दिशा में जल जीवन मिशन एक व्यापक एवं महत्वपूर्ण परिवर्तन की दस्तक है। हर घर जल पहुंचाने की शासन की इस अनोखी योजना के अंतर्गत घर पर ही नागरिकों को नलों के माध्यम से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है।राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम पंचायत अचानकपुर के आश्रित ग्राम परमालकसा में घर-घर नल लग जाने से गांव की दशा पहले की अपेक्षा सुधरने लगी है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत गांव के प्रत्येक घर को नल और जल से जोड़ने से ग्रामीणों को घर पर ही शुद्ध

पेयजल मिलने लगा है।

जल जीवन मिशन के तहत गांव में 400 मीटर डिस्ट्रीब्यूशन पाइप लाइन बिछाकर 306 परिवारों को नल से जल की सुविधा प्रदान की जा रही है। ग्राम की सरपंच श्रीमती शालिनी संध्या टोप्पो ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत गांव में द्रुत गति से कार्य किया जा रहा है। ग्रामीणों को घर पर ही नल से जल मिलने लगा है, जिससे ग्रामवासी राहत की सांस लेने लगे हैं। ग्रामवासी श्रीमती ज्योति मारकण्डेय तथा श्रीमती सविता साहू अपने अनुभव साझा करते हुए बताती हैं कि उनके गांव के लोगों को पहले काफी सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। ग्रामीणों को पानी भरने के लिए समुचित व्यवस्था नहीं होना, बोरिंग का बंद पड़ जाना, कुओं का सूख जाना जैसी समस्याओं से जूझना पड़ता था। पहले ग्रामीणों को पानी भरने के लिए बहुत दूर जाना पड़ता था, कई बार रात्रि को पानी के लिए जाना, बरसात के दिनों में पानी के लिए कतार में खड़े रहना पड़ता था। किन्तु जल जीवन मिशन के अंतर्गत गांव के हर घर में नल कनेक्शन मिलने से पेयजल मिल रहा है और ग्रामीणों के समय की बचत हो रही है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में जल जीवन मिशन जैसी अनोखी योजना शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय को धन्यवाद ज्ञापित किया।

Related Articles

Back to top button